google.com, pub-9417364518255572, DIRECT, f08c47fec0942fa0
हड़ताल पर हैं राशन डिपो धारक, पुराने नियमों को बहाल करने की कर रहे मांग
Spread the love

राज्य के राशन डिपो संचालक अपनी मांगों को लेकर एक जनवरी से बेमियादी हड़ताल पर जाएंगे. ऑफ फेयर प्राइस शॉप डीलर्स फेडरेशन हरियाणा ने इस राष्ट्रव्यापी हड़ताल का समर्थन किया है. ऑफ फेयर प्राइस शॉप डिलर्स फेडरेशन, हरियाणा ने डिपोधारकों की पहली जनवरी से हो रही राष्ट्रव्यापी हड़ताल का भी समर्थन कर दिया है.।

हरियाणा के डिपो होल्डर सरकार द्वारा पहली अगस्त, 2022 को जारी किए गए नये नियमों से आहत हैं. उनका कहना है कि नये नियमों से उनके हितों और अधिकारों का हनन होगा. हालांकि सरकार ने 200 रुपये प्रति क्विंटल मार्जन मनी में बढ़ोतरी की है, लेकिन इस फैसले से राशन डिपो और कार्डधारकों की छीनाझपटी बढ़ने की संभावना बढ़ गई है।

हरियाणा के डिपो होल्डर सरकार के अगस्त 2022 को जारी किए गए नये नियमों से परेशान हैं और इनको बदलने की मांग कर रहे हैं. राशन डिपो धारकों ने चेताया कि जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता, उनकी हड़ताल जारी रहेगी।

फेडरेशन के प्रदेशाध्यक्ष शीशपाल गोदारा ने कहा कि नए नियमों में सरकार ने 200 रुपये प्रति क्विंटल मार्जन मनी में बढ़ोतरी की है, लेकिन 300 राशन कार्डों पर एक डिपो का लाइसेंस देने का निर्णय लिया है. इससे पहले 600 से 1200 राशन कार्डों पर राशन डिपो का लाइसेंस दिया जाता था, लेकिन अब कार्ड आधे कर दिए. कार्यकारी अध्यक्ष रामबीर, महासचिव राजबीर सिंह नैन, कोषाध्यक्ष राजेंद्र शर्मा ने कहा कि इससे डिपो धारकों की आय कम होगी. इसके अलावा, 60 साल आयु सीमा भी तय की गई है, इसको हटाया जाए.

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

SAUDI ARABIA की पहली मिस यूनिवर्स प्रतियोगी RUMY ALQAHTANI Mahua Moitra | महुआ मोइत्रा के बारे में कम ज्ञात तथ्य कौन है यह मॉडल